Tom Alter Birth Anniversary: हिंदी फिल्मों के अंग्रेज अफसर टॉम ऑल्टर की फिल्म ‘अराधना’ ने बदल दी थी जिंदगी

0


टॉम ऑल्टर (Tom Alter) थियेटर और हिंदी सिनेमा के जाने माने कलाकार थे. 22 जून 1950 को देहरादून के मसूरी में पैदा हुए टॉम को अंग्रेज ऑफिसर के रोल की वजह से अधिक जाना जाता है. टॉम यूं तो मूल रुप से अमेरिकी थे लेकिन दिल से पूरे हिंदुस्तानी. हिंदी समेत तमिल, तेलुगू, गुजराती ,बंगाली की करीब 300 फिल्मों में काम करने वाले टॉम को पहाड़ों से बेहद लगाव था. पद्मश्री से सम्मानित टॉम ने अगर राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) को पर्दे पर अभिनय करते नहीं देखा होता तो शायद वह कभी फिल्मों में नहीं आते.

टॉम ऑल्टर के फिल्मी सफर के शुरुआत का किस्सा भी कम दिलचस्प नहीं है. हिंदी फिल्म देखने के शौकीन टॉम को फिल्मों में काम करने की प्रेरणा हिंदी सिनेमा के पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना से मिली थी. राजेश की दीवानी सिर्फ लड़कियां नहीं हुआ करती थी बल्कि युवा भी हुआ करते थे. कहते हैं कि टॉम एक बार अपने फ्रेंड के साथ राजेश खन्ना और शर्मिला टैगोर स्टारर फिल्म ‘अराधना’ देखने गए थे. राजेश की एक्टिंग का टॉम पर इस कदर असर पड़ा कि पुणे के एफटीआईआई में एडमिशन लेने का फैसला कर लिया.

राजेश खन्ना बनने मुंबई आए थे टॉम ऑल्टर
रोशन तनेजा के अंडर में टॉम ऑल्टर ने फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीच्यूट ऑफ इंडिया में 1972 से लेकर 1974 तक एक्टिंग की बारीकियां सीखी. एक इंटरव्यू में टॉम ने कहा था कि मैं मुंबई राजेश खन्ना बनने आया था स्टेज पर एक्टिंग करने नहीं. टॉम अल्टर ने साल 1976 में रामानंद सागर की फिल्म ‘चरस’ से फिल्मी दुनिया में कदम रखा था. हालांकि टॉम को पहला ऑफर चेतन आनंद के निर्देशन में बनी और देव आनंद स्टारर फिल्म ‘साहब बहादुर’ के लिए मिला था लेकिन ‘चरस’ पहले रिलीज हो गई तो इस तरह उनकी पहली फिल्म मानी जाती है.

राजेश खन्ना के साथ किया था काम
राजेश खन्ना के साथ काम करने की टॉम ऑल्टर  की दिली ख्वाहिश फिल्म ‘नौकरी’ में काम करके पूरी हुई. 1978 में ह्रषिकेश मुखर्जी के निर्देशन में बनी इस फिल्म में टॉम ने मिस्टर एंडरसन नामक कैरेक्टर प्ले किया था. कई फिल्मों और नाटकों का हिस्सा रह चुके टॉम की आखिरी फिल्म ‘हमारी पलटन’ थी.

ये भी पढ़िए-राजेश खन्ना ने कभी सोचा भी नहीं था कि फैंस उनसे बोर भी हो सकते हैं, बुरी तरह हिल गए थे काका !

टॉम ऑल्टर को पहाड़ों से खास लगाव था
टॉम ऑल्टर का जन्म और परवरिश पहाड़ों पर हुआ था तो अपनी आखिरी सांस भी वहीं लेना चाहते थे और पहाड़ों को लेकर कई प्लानिंग भी कर रहे थे. हालांकि उनकी दिली तमन्ना पूरी नहीं हो पाई, 29 सितंबर 2017 को टॉम का निधन हो गया.

Tags: Birth anniversary, Rajesh khanna, Tom Alter



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here