Samrat Prithviraj: चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने बताई अक्षय कुमार की फिल्म के फ्लॉप होने की वजह

0


अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की फिल्म ‘सम्राट पृथ्वीराज’ (Samrat Prithviraj) साल की बड़ी फ्लॉप फिल्मों में से एक बन गई है. फिल्म के खराब प्रदर्शन ने निर्देशक डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी (Chandraprakash Dwivedi) को हैरान कर दिया है. उन्होंने अब इस पर खुलकर अपनी बात कही है. उन्होंने बॉक्स ऑफिस पर फिल्म के फ्लॉप होने की वजह बताई है.

डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने नवभारत टाइम्स से बात करते हुए कहा कि वे फिल्म के विफल होने से हैरान हैं. वे कहते हैं, ‘यशराज फिल्म्स ने इस कहानी को बड़े लेवल पर प्रस्तुत किया है, लेकिन लोगों को समस्या थी. मुझे अभी भी यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें क्या समस्या थी. लेखकों ने ऐतिहासिक तथ्यों का अनुसरण करते हुए ईमानदारी के साथ काम किया है. हम अपनी कहानी कहने की जिम्मेदारियों से अच्छी तरह वाकिफ हैं.’

डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी: फिल्मों में राजनीति और धर्म को खींचने से बचना चाहिए
फिल्म में ऐतिहासिक तथ्यों को गलत तरीके से दिखाने की वजह से फिल्म की आलोचना हुई थी और इसका मजाक उड़ाया गया था. निर्देशक ने इसे लेकर कहा है कि इतिहासकारों को राजनीति के साथ मनोरंजन को मिलाकर देखना चाहिए. वे कहते हैं, ‘इतिहासकारों को सिनेमाहॉल के बाहर बहस करनी चाहिए. उन्हें फिल्मों को फिल्मों की तरह ही देखनी चाहिए. उनमें राजनीति और धर्म को खींचने से बचना चाहिए.’

डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी: पृथ्वीराज की वीरता के अलावा भी बहुत कुछ है फिल्म
वे आगे कहते हैं, ‘यह फिल्म पृथ्वीराज की वीरता के अलावा भी बहुत कुछ बताती है. अगर इतिहासकार कहानी को लेकर आपत्तियां जताते हैं या फिर अपनी राय पेश करते हैं तो मैं स्वागत करता हूं. आप मेरी राय से सहमत नहीं है, इसका मतलब यह नहीं है कि आप इसे पूरी तरह से अस्वीकार कर देंगे. इतिहास ऐसे काम नहीं करता.’

सनी देओल के साथ बनाना चाहते थे फिल्म
डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने ‘सम्राट पृथ्वीराज’ से निर्देशन में वापसी की है. उन्होंने यह भी खुलासा किया कि इस फिल्म की योजना सनी देओल के साथ बनाई गई थी. वे कहते हैं, ‘मैंने 18 साल पहले सनी देओल के लिए कहानी लिखी थी. वे इसे बनाने के लिए भी तैयार थे, लेकिन तब बाजार ने इसका सपोर्ट नहीं किया था.’

Tags: Akshay kumar, Prithviraj



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here