Read Film Review of The Tinder Swindler in hindi EntPKS

0


‘The Tinder Swindler’ Film Review: ट्रू क्राइम पर बनी डॉक्यूमेंटरीज में नेटफ्लिक्स ने लगभग हर तरह के क्राइम्स पर कब्ज़ा कर रखा है. कुछ दिन पहले ही “द पपेट मास्टर” नाम की डाक्यूमेंट्री रिलीज़ हुई थी जिसमें एक शख्स ब्रिटिश अंडरकवर जासूस होने का दावा करता है और लड़कियों को फंसा कर, उन्हें जासूस बनाने की ट्रेनिंग देता है, और फिर शादी का झांसा देकर उन्हें घर से भगा ले जाता है. इसी तर्ज़ पर नए ज़माने में नए किस्म के अपराध भी आ गए हैं जिसमें डिजिटल अपराधों का एक स्वरूप है, डेटिंग की वेबसाइट पर नकली प्रोफाइल बनाकर लड़कियां फंसाना और फिर किसी बहाने से उनके पैसे मांगना और फिर गायब हो जाना. इस अपराध का एक वीभत्स स्वरूप दिखाया गया है नेटफ्लिक्स की नयी डाक्यूमेंट्री “द टिंडर स्विंडलर” में.

निर्देशिका फ़ेलिसिटी मॉरिस ने जिस खूबसूरत अंदाज़ से इस अपराध को परत दर परत खोला है, ये दहशत पैदा कर सकता है और उन सभी को आगाह भी करता है जो ऑनलाइन के ज़माने में मोहब्बत भी डेटिंग वेब साइट पर ढूंढ रहे हैं. टिंडर एक ऐसी ऐप है जिस पर आप प्रोफाइल बना सकते हैं और अपनी पसंद और मिज़ाज के साथी की तलाश कर सकते हैं. आमतौर पर प्रोफाइल पढ़कर, पूरी जानकारी लेकर, उस शख्स की पसंद-नापसंद जानकर ही बात आगे बढ़ाई जानी चाहिए लेकिन हमारे घटते अटेंशन स्पैन की वजह से हम सिर्फ फोटोग्राफ्स देख कर ही किसी शख्स को समझने की गलती कर बैठते हैं. इस बात का फायदा उठाया साइमन लेवीव ने. साइमन खुद को लेवीव डायमंड कंपनी का उत्तराधिकारी बताता था.

टिंडर पर उसके खूबसूरत जगहों पर महंगे ब्रांड के कपडे, जूते और गाड़ियों के साथ वाले कुछ फोटोग्राफ्स थे और उसके टिंडर अकाउंट से जुड़ा था इंस्टाग्राम, दुनिया का सबसे बड़ा फोटो शेयरिंग ऐप. इंस्टाग्राम अकाउंट में वो हमेशा प्राइवेट जेट से आते जाते, महंगे होटलों में खाना खाते, शराब पीते और छुट्टियां मनाते हुए ही नज़र आता था यानी जिंदगी न मिलेगी दोबारा तो आज ही जी लो सारा. उसकी ऐसी प्रोफाइल को देखकर लड़कियों को वो बहुत पसंद आता और इसे टिंडर पर दिखाने के लिए फोटो पर “राइट स्वाइप” यानी दाहिनी ओर खींचना होता. जैसे ही वो ये काम करतीं, उन्हें संदेसा आता कि साइमन ने भी उन्हें पसंद किया और राइट स्वाइप किया है. यहां से शुरू होता एक ऐसा भंवर जिसमें फंस कर लड़कियां अपनी जिंदगी बर्बाद कर लेती.

साइमन पहले तो इन लड़कियों को बढ़िया जगहों पर ले जाता, शानदार डिनर, पार्टी, प्राइवेट जेट की सवारी यानी ऐशो आराम की दुनिया में ले जाता. उसके साथ उसका एक बॉडीगार्ड और कभी कभी उसका बिज़नेस पार्टनर भी होता. उसकी कंपनी की एक वेबसाइट भी थी ताकि किसी को शक न हो. धीरे-धीरे लड़की जब उसके प्रेम में फंस जाती तो वो अपना पहला पत्ता चलता. साइमन ये कहता था कि चूंकि वो डायमंड मर्चेंट है तो उसकी जान को खतरा है, कई लोग उसको मारना चाहते हैं, वो किसी बड़ी डील पर काम कर रहा है जो उसके कॉम्पिटिटर करने नहीं देना चाहते. उसकी हाई प्रोफाइल लाइफ स्टाइल को देखकर भरोसा करना आसान था. फिर एक दिन वो लड़की को कहता है कि उसकी सिक्योरिटी ने कहा है कि वो अपने क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल न करे नहीं तो उसके दुश्मन पता लगा लेंगे की वो कहां है.

इसके बाद वो लड़की से कहता था कि क्या वो उसे कुछ कैश दे सकती है, बस कुछ हज़ार डॉलर्स. भोली लडकियां दे भी देती थी. फिर साइमन उस लड़की के नाम पर एक क्रेडिट कार्ड बनवाता था जिसकी मदद से वो उस लड़की से हवाई जहाज के टिकट बुक करवाता, होटल के बिल भरवाता और शॉपिंग करता. उस लड़की को हर बार दिलासा मिलता कि जल्द ही वो पैसा लौटा देगा, दो या तीन हफ्ते में. कभी कभी वो एक चेक की फोटो भेज देता या फिर बैंक ट्रांसफर की रसीद की फोटो भेज देता. ये रकम, उधारी की रकम से कहीं ज़्यादा होती इसलिए लड़की कभी शक नहीं करती. फिर एक दिन साइमन फ़ोन उठाना बंद कर देता, संपर्क ख़त्म हो जाते, और लड़की पर क्रेडिट कार्ड और बैंक्स का हज़ारों डॉलर का क़र्ज़ बिना चुकाए रह जाता.

ये वाली तकनीक वो कई लड़कियों पर एक साथ आज़माता और एक लड़की से लिए गए पैसों से वो दूसरी लड़की को ऐशगाह दिखता और दूसरी के पैसों से तीसरी को. साइमन अपनी व्यस्तता दिखाने के लिए कभी स्वीडन में होता तो कभी पेरिस में तो कभी एम्स्टर्डम या किसी और यूरोपीय देश में. दरअसल साइमन इजराइल का रहने वाला था और उसका असली नाम था शिमोन हयुत. किसी ज़माने में मोहब्बत करने के लिए दो शख्स एक दूसरे को देखते थे, मिलते थे, समय के साथ पहचान बढ़ाते थे और फिर कहीं प्यार गहराता था. ऑनलाइन और विजुअल ज़माने में ये थोड़ी पुरानी तकनीक है लेकिन ये सोचना कि कोई डायमंड कंपनी का उत्तराधिकारी आपको जिंदगी की रंगीनियां दिखा रहा है, आप पर पैसा उड़ा रहा है लेकिन वो पैसा किसी और लड़की को बेवकूफ बना कर पाया गया है? ये तो कभी भी संभव नहीं है.

लंदन में रहने वाली फ़िनलैंड की सीसिल ने इस तरीके से साइमन पर करीब 1.8 करोड़ रुपये खर्च कर दिए, कुछ कैश तो कुछ क्रेडिट कार्ड के ज़रिये जो कभी वापिस नहीं मिले. क़र्ज़ में आजतक डूबी सीसिल से पहली मुलाक़ात में साइमन ने उसे भरोसा दिलाने के लिए अपनी बेटी और तलाकशुदा पत्नी से भी मिलवाया था जो साइमन की तारीफ करती थी और प्राइवेट जेट से उसे बुल्गारिया ले गया था. सीसिल उसके अंदाज़ से बहुत प्रभावित हुई थी और उसकी बातों के जाल में फंस कर कभी दस हज़ार तो कभी पंद्रह हज़ार डॉलर देती गयी. फिर उसके नाम का क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए साइमन ने उसे अपनी डायमंड कंपनी का मुलाज़िम बना दिया, पिछले कुछ सालों की सैलरी स्लिप भी बन गयीं और क्रेडिट कार्ड हाज़िर. काफी महीनों तक ऐसे ही अचानक खर्चे करते रहने के बाद सीसिल को थोड़ा शक होने लगा क्योंकि क्रेडिट कार्ड और बैंक वाले वसूली के नोटिस भेजने लगे.

साइमन ने सीसिल से कहा था कि वो अपनी सोशल मीडिया प्रोफाइल डिलीट कर रहा है और टिंडर भी लेकिन सीसिल को वो टिंडर पर नज़र आया और वहां नयी तस्वीरें लगी हुई थी. सीसिल ने अपनी क्रेडिट कार्ड कंपनी अमेरिकन एक्सप्रेस से संपर्क किया तो उनके अफसर उसके घर आये और उस से पूरे मामले की जानकारी ली. तब कहीं जा कर सीसिल को पता चला कि साइमन एक आदतन अपराधी है और वो इसी तरह से लड़कियों को फंसाता है. सीसिल को क़र्ज़ से मुक्ति तो नहीं मिली लेकिन उसे दुःख और डिप्रेशन साथ में मिला. उसे एक मेन्टल हॉस्पिटल में भर्ती होना पड़ा. खोज बीन के दौरान साइमन का शिकार और भी लड़कियां मिली. ऐसी ही एक लड़की परनीला स्जोहम को साइमन ने गर्लफ्रेंड टोनहिन बनाया मगर अपनी सबसे करीबी दोस्त बना कर उसके साथ भी ऐसा ही घोटाला किया.

एम्स्टर्डम की आयलीन शार्लेट पर भी हज़ारों डॉलर का क़र्ज़ चढ़ाकर साइमन लापता होने की फ़िराक़ में था लेकिन आयलीन ने साइमन पर छपी हुई खबर पढ़ ली थी इसलिए उसने साइमन से प्यार का नाटक जारी रखा. साइमन को पैसे की ज़रूरत पड़ी तो आयलीन ने साइमन से उसके कपडे, जूते, ब्रेसलेट आदि बेचने की बात कही और उसके घर जा कर उसका सामान अपने साथ ले आयी. अब आयलीन इन महंगे ब्रांड्स के कपड़ों और जूतों को बेच कर अपने पैसा पाने की कोशिश कर रही है.

2019 में साइमन को इंटरपोल और इजराइल की पुलिस की मदद से पकड़ लिया गया लेकिन लड़कियां सभी बालिग़ थीं, इसलिए केस में दम नहीं था फिर भी नकली पहचान और टैक्स के कुछ मामले बना कर उसे 15 महीने की और तकरीबन 44 हज़ार डॉलर का जुरमाना हुआ. साइमन अब जेल से बाहर है और फिर किसी लड़की के साथ घूम रहा है जो कि इजराइल की ही रहने वाली है. शायद उसका नया शिकार हो. डॉक्यूमेंटरी आजकल की मोहब्बत पर एकदम तीखी टिपण्णी तो है ही इसके साथ ही उन्होंने महीनों तक मेहनत कर के पूरी स्कैम को परदे पर उतारा है. आजकल के माता पिता के साथ ही उन युवाओं को इसे देखना चाहिए जिन्हें सिर्फ चकाचौंध नज़र आती है. यू लिव ओनली वन्स (योलो) की कहानी सुनाने वाले जब करोड़ों रुपये का क़र्ज़ लेकर सड़क पर आ जाते हैं तो उन्हें पता नहीं होता कि ज़िन्दगी क अगला कदम क्या लेना चाहिए. डिजिटल दुनिया ने इस फ्रॉड, इस स्कैम को देखिये और समझिये। आगाह कीजिये अपने सभी परिचितों को ताकि प्रेम के बाज़ारूकरण का ये नंगा और गन्दा नाच कभी तो ख़त्म हो.

डिटेल्ड रेटिंग

कहानी :
स्क्रिनप्ल :
डायरेक्शन :
संगीत :

Tags: Film review, Hollywood



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here