21 Years Of Lagaan: जानिए आमिर खान के ‘भुवन’ बनने का किस्सा, एक्टर ने कई एक्सपेरिमेंट कर रच दिया था इतिहास

0


21 Years Of Lagaan: आमिर खान (Aamir Khan) स्टारर फिल्म ‘लगान’ (Lagaan) के बनने की कहानी भी अपने आप में ऐतिहासिक है. 15 जून 2001 में रिलीज हुई फिल्म से जुड़े तमाम किस्से सुने और सुनाए जाते हैं.  ‘लगान’ आमिर के फिल्मी करियर की बेस्ट फिल्म साबित नहीं होती अगर इस फिल्म के लिए शाहरुख खान, ऋतिक रोशन या अभिषेक बच्चन ने हां कर दिया होता. फिल्म के 21 बरस पूरे होने पर चलिए बताते हैं उस फिल्म के मेकिंग की कहानी जो आमिर के करियर में मील का पत्थर साबित हुई. आमिर ने इस फिल्म में वह हर एक्सपेरिमेंट किया जिसे वह बरसों से करना चाहते थे.

आशुतोष गोवारिकर के निर्देशन में बनी फिल्म ‘लगान’ ने 21 साल पहले बॉक्स ऑफिस पर शानदार प्रदर्शन किया था. फिल्म ने अपने बजट का तीन गुना कारोबार किया था. आमिर खान फिल्म के प्रोड्यूसर भी थे और ग्रेसी सिंह के साथ लीड रोल में भी थे. आमिर के फिल्म में होने की कहानी भी कम दिलचस्प नहीं है. मीडिया रिपोर्ट की माने तो आशुतोष जब फिल्म लिख रहे थे तो उनके दिमाग में सबसे पहले बतौर एक्टर शाहरुख खान थे, लेकिन किसी वजह से शाहरुख ने मना कर दिया. फिर बॉबी देओल, अभिषेक बच्चन और ऋतिक रोशन को अप्रोच किया, लेकिन सबने फिल्म करने से मना कर दिया.

team lagaan
आशुतोष गोवारिकर के निर्देशन में बनी फिल्म ‘लगान’. (फो़टो साभार: iamgracysingh/Instagram)

आमिर खान क्रिकेट वाली फिल्म नहीं करना चाहते थे

आशुतोष गोवारिकर ने जब आमिर खान से बात की तो उन्होंने क्रिकेट पर आधारित फिल्म करने में रुचि नहीं दिखाई. आशुतोष ने कहा कि पहले फिल्म की कहानी सुन ले अगर ठीक लगे तभी हां करें. आमिर ने आशुतोष की बात मान ली और कहानी सुनते सुनते उनकी आंखें नम हो गईं और इस तरह आशुतोष को भुवन मिल गया. आमिर खान ने बताया था कि ‘जब मैंने ‘लगान’ बनाने का फैसला किया, मैं जानता था कि मैं बड़ा रिस्क ले रहा हूं क्योंकि यह एक सामान्य से हटकर फिल्म थी. शूटिंग के लिए निकलने से कुछ हफ्ते पहले मेरी मुलाकात आदित्य चोपड़ा और करण जौहर से हुई. दोनों मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं और मेरे लिए चिंतित थे’.

आदित्य ने कहा कि ‘आप अपने प्रोडक्शन में पहली बार एक बड़ी फिल्म बना रहे हो, सिंगल शेड्यूल में शूटिंग और सिंक साउंड का इस्तेमाल भी. पहले 30 दिन शूट करें और देखें कि यह कैसा होता है. सिंगल शेड्यूल न करें, आपके पास अपनी गलतियों को ठीक करने का मौका नहीं होगा. सिंक साउंड का इस्तेमाल भी न करें, इससे आपकी शूटिंग में देरी होगी. डायलॉग्स को बाद में डब कर लीजिएगा, यही समझदारी होगी’.

aamir khan, gracy singh
आमिर खान और ग्रेसी सिंह लगान में लीड रोल में थे. (फो़टो साभार: iamgracysingh/Instagram)

आमिर खान ने वह किया जो बरसों से करना चाहते थे

लेकिन आमिर ने उनकी सलाह नहीं मानी, क्योंकि वह कई साल से सिंगल शेड्यूल शूटिंग और सिंक साउंड का इस्तेमाल करना चाहते थे. आमिर ने बताया कि ‘ मैं 1995 से ही डायरेक्टर से सिंक साउंड के लिए कहता था क्योंकि शूटिंग के समय जो इमोशन मैं क्रिएट कर रहा होता हूं वह बर्बाद हो जाता है,फिर डबिंग के समय वही इमोशन फिर लाना पड़ता. ये ऐसी चीजें थी जिसे एक एक्टर के तौर पर मैं करना चाहता था लेकिन मेरे प्रोड्यूसर मेरी बात नहीं मानते थे. मैं सोचता था कि जब मैं प्रोड्यूसर बना तो जरूर करूंगा’. आमिर ने वही किया भी.

‘लगान’ ने 21 साल पहले मचा दिया था धूम

‘लगान’ फिल्म में ब्रिटिश राज में लगान के बोझ तले एक ऐसे गांव की कहानी है जहां के लोग ब्रिटिश हुकूमत से लगान माफ करवाने के लिए क्रिकेट जैसा खेल खेलने का रिस्क लेते हैं. जिन लोगों ने कभी बैट-बॉल को हाथ नहीं लगाया था उन लोगों का गंवई अंदाज में खेल ही फिल्म की यूएसपी है. भुवन नामक युवक के किरदार में आमिर खान ऐसा काम किया था कि फिल्म की धूम सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि समंदर पार भी थी.

ये भी पढ़िए-आमिर खान और उनके बेटे आजाद का ये VIDEO आपने देखा? फैंस बोले- ‘पापा की कार्बन कॉपी’

‘लगान’ का संगीत भी है शानदार

फिल्म की कहानी, फिल्मांकन और गाने सब इतने शानदार थे कि 21 साल बाद भी फिल्म आज भी नयापन बरकरार है. इस फिल्म  के गीत जावेद अख्तर ने लिखे थे और संगीत से ए आर रहमान ने सजाया था. म्यूजिक को 3 नेशनल अवॉर्ड मिले थे. घनन घनन के लिए सर्वश्रेष्ठ गीतकार जावेद अख्तर, मितवा सुन मितवा के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर उदित नारायण और ए आर रहमान को बेस्ट म्यूजिक के लिए अवॉर्ड मिला था. इतना ही नहीं इस  फिल्म को ऑस्कर में नॉमिनेशन भी मिला था.

Tags: Aamir khan, Gracy Singh, Lagaan



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here