गणेश आचार्य को यौन उत्पीड़न मामले में मिली जमानत, महिला डांसर ने लगाया था आरोप

0


बॉलीवुड एक्टर्स को अपने इशारों पर नचाने वाले कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Choreographer Ganesh Acharya) को यौन उत्पीड़न मामले में जमानत मिल गई है. मुंबई की एक मजिस्ट्रेट अदालत ने उन्हें जमानत दी. मामला साल फरवरी 2020 का है. एक महिला डांसर द्वारा कोरियोग्राफर गणेश आचार्य के खिलाफ यौन उत्पीड़न मामले (Sexual Harassment Case) में एफआईआर दर्ज कराई गई थी, जिसके बाद पुलिस ने कोरियोग्राफर के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी.

कोरियोग्राफर गणेश आचार्य (Choreographer Ganesh Acharya) गुरुवार (23 जून) को अदालत के समक्ष पेश हुए, जिसके बाद उन्हें इस मामले में जमानत देते हुए कोर्ट ने राहत दी. गणेश आचार्य पर महिला ने फरवरी साल 2020 में यौन उत्पीड़न मामले (Sexual Harassment Case) का केस दर्ज कराया था.

महिला डांसर का क्या है आरोप
महिला ने यह भी आरोप लगाया था कि साल 2009-10 में जब भी वह गणेश आचार्य के ऑफिस में उनसे मिलने गई तो उन्हें अश्लील वीडियो देखने के लिए मजबूर किया और इसके विरोध पर उसे परेशान करना शुरू कर दिया गया. इसके साथ ही महिला ने बताया कि इसी वजह से छह माह के बाद ही भारतीय फिल्म और टेलीविजन कोरियोग्राफर एसोसिएशन के द्वारा उसकी सदस्यता भी समाप्त कर दी गई. महिला का ये भी आरोप है कि आचार्य ने अन्य महिलाओं का भी यौन शोषण किया है.

महिला ने मारपीट का भी लगाया था आरोप
शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि 26 जनवरी, 2020 को अंधेरी में इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन कोरियोग्राफर्स एसोसिएशन के एक समारोह के दौरान उसने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर उसके साथ मारपीट भी की गई थी.

मामले में कभी नहीं हुए गणेश आचार्य गिरफ्तार
इस साल अप्रैल में, मुंबई पुलिस ने गणेश पर अन्य आरोपों के साथ यौन उत्पीड़न और दृश्यरतिकता का आरोप लगाया था. इस मामले में गणेश आचार्य को कभी गिरफ्तार नहीं किया गया है. गुरुवार (23 जून) को मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश होने के बाद उन्हें जमानत दे दी गई.

इन धाराओं में पुलिस ने दर्ज किया था केस
शिकायत के आधार पर, पुलिस ने धारा 354-A, 354-C, 354-D और धारा 506 और 509 के तहत मामला दर्ज किया था. हालांकि कोरियोग्राफर ने अपने ऊपर लगे इस सभी आरोपों से इनकार किया है.

कोरियोग्राफर कमलजी के असिस्टेंट के रूप में शुरू किया था करियर
51 साल के गणेश आचार्य ने 90 के दशक की शुरुआत में कोरियोग्राफर कमलजी के असिस्टेंट के रूप में शुरू किया था. उन्होंने 1992 में अपनी पहली फिल्म ‘अनाम’ में काम किया, लेकिन 2001 में फिल्म ‘लज्जा’ के गाने ‘बड़ी मुश्किल’ को कोरियोग्राफ करने के बाद उन्हें फेम मिला. कोरियोग्राफी के साथ उन्होंने कई फिल्मों में अभिनय भी किया है.

Tags: Bollywood, Entertainment



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here